Blogger ke Template ko Mobile Friendly Kaise Bnate Hai


Blogger ke Template ko Mobile Friendly Kaise Bnate Hai?  


दोस्तों आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे की हम Blogger के Template को  Mobile Friendly कैसे बना कर अपने ब्लॉग मैं उपयोग कर सकते है क्युकि ब्लॉग या साइट का 60% से ज्यादा ट्रैफिक मोबाइल से ही मिलता है इस लिए हमारा थीम Mobile Friendly होना बहुत जरूरी है -
How to Make Blogger Template to Mobile Friendly

Blogger Ke Template ko Mobile Friendly Kyu Bnate Hai 


Blogger Responsive Theme क्या है? - Responsive Theme का मतलब है कि थीम किसी भी Web Browser/mobile Devises/Tab की स्क्रीन के अनुकूल होता है और थीम कंटेंट अपने आप ही मोबाइल /टैब स्क्रीन पर adjust हो जाता है और आप को कोई अलग से थीम को जरूरत नहीं होती। 

आज जितनी भी नई थीम्स है सभी Fully Mobile Responsive है और थीम विक्रेता अपनी पुराणी थीम्स को अपडेट करके  Mobile Friendly बना रहे है. 

Mobile Friendly Theme / Template का मतबल की आप का ब्लॉग या वेबसाइट किसी मोबाइल पर desktop स्क्रीन जैसे दिखनी चाहिए.

अगर आप का टेम्पलेट मोबाइल फ्रेंडली नहीं होगा तो वेबसाइट visitors को आप का लिखा कंटेंट पढ़ने मैं मुश्किल होगी जिस आप के ब्लॉग पर negative प्रभाव पड़ेगा .

Blogger Mobile Template ki Setting Kaise Kare -

Mobile Friendly Template/Theme बनाने की सेटिंग के लिए Steps 1 से 5 को फॉलो करें 

Steps :

  1. ब्लॉगर के डैशबोर्ड से Theme ऑप्शन को चुने 
  2. 'Customize Mobile Theme' Option चुने 
  3. 'Yes' ऑप्शन चुने 
  4. 'Drop Down List मे Default option' चुने 
  5. 'Save' बटन पर क्लिक करें 
How to Make Blogger Template to Mobile Friendly


Blogger ke Template ko Mobile Friendly Kaise Bnate Hai


Blogger Responsive Theme ko Check Kaise Kare :


Blogger Responsive Theme  को टेस्ट करने के लिए अपने डेस्कटॉप पर जाए और अपनी साइट या ब्लॉग के URL एड्रेस के आखिर मैं /?m=1 टाइप करें और एंटर key को दबाएं.
eg. Https://besttipsinhindi.blogspot.com/


या नीचे दिए लिंक पर क्लिक करें और ब्लॉग या साइट का url भरे .



Make Blogger Template to Mobile Friendly


दोस्तों अगर यह पोस्ट "Blogger ke Template ko Mobile Friendly कैसे बनाते है " अच्छी लगे तो Please लाइक और शेयर जरूर करें - Thanks for Reading 

Post a Comment

0 Comments